Home » Sports » BCCI की एजीएम 17 दिसंबर को होगी

चेन्नई: भारतीय क्रिकेट बोर्ड आज पूरी तरह से अपने निर्वासित अध्यक्ष एन श्रीनिवासन के समर्थन में खड़ा हो गया जिन्हें मुदगल समिति ने सट्टेबाजी और मैच फिक्सिंग के आरोपों से बरी कर दिया है। इसके साथ ही बीसीसीआई ने आईपीएल सीओओ सुंदर रमन का भी उच्चतम न्यायालय में कानूनी लड़ाई में उनका साथ देने का फैसला किया।  
 
बोर्ड की कार्यकारिणी की आपात बैठक में इसके अलावा अध्यक्ष सहित नए पदाधिकारियों के चुनाव के लिये वार्षिक आम सभा (एजीएम) स्थगित करने का फैसला किया गया। अब यह 20 नवंबर के बजाय 17 दिसंबर को होगी।  
 
सुंदर रमन पर सटोरिया के संपर्क में रहने का आरोप है लेकिन बोर्ड ने उनका भी समर्थन किया।  बोर्ड ने श्रीनिवासन का साथ देने का फैसला किया जिन्हें इन आरोपों से बरी कर दिया गया है कि उन्होंने जांच को प्रभावित करने की कोशिश की थी। 
 
बीसीसीआई ने कहा कि बोर्ड को अस्थिर करने के उद्देश्य से श्रीनिवासन के खिलाफ आरोप लगाये गए थे। श्रीनिवासन अभी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के भी चेयरमैन हैं। बीसीसीआई ने बयान में कहा कि सदस्यों ने मुदगल समिति की अंतिम रिपोर्ट के निष्कर्ष पर चर्चा की और उसे लगा कि श्रीनिवासन की तरफ से कुछ भी गलत नहीं किया गया तथा कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा उनके उपर लगाए गए आरोप आधारहीन हैं और उनका उद्देश्य बीसीसीआई के कामकाज को अस्थिर करना है।
 
इसके अलावा कार्यकारिणी ने उच्चतम न्यायालय में सौंपी गयी रिपोर्ट में लगाये गये आरोपों के संबंध में रमण का पक्ष भी सुना। सर्वोच्च न्यायालय इस मामले की अगली सुनवाई 24 नवंबर को करेगा।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


− one = 1

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com