Home » National News » मुसलमानों को सूर्य नमस्कार से रोकने के लिए पर्चा

मध्य प्रदेश में मुस्लिम संगठनों के प्रतीकात्मक विरोध के बीच मध्यप्रदेश के स्कूलों में सामूहिक सूर्यनमस्कार का आयोजन किया गया। स्वामी विवेकानंद की जयंती के मौके पर आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने खुद बच्चों के साथ सूर्यनमस्कार किया साथ ही उन्होंने बच्चों को योग से होने वाले लाभ के बारे में भी बच्चों को बताया।



सरकार के इस कार्यक्रम का 'कोऑर्डिनेशन कमिटी फॉर इंडियन मुस्लिम' मध्यप्रदेश यूनिट नाम के संगठन ने विरोध किया था। इस संगठन ने राजधानी भोपाल तथा प्रदेश के अन्य शहरों में पर्चे Surya Namaskarचिपका कर मुस्लिम छात्रों से कहा था कि वे सूर्यनमस्कार न करें। इस संगठन की ओर से प्रदेश के प्रमुख शहरों में अपने प्रतिनिधियों के नंबर भी इस पोस्टर पर छापे गये थे लेकिन पूरे प्रदेश में कहीं भी इस मुद्दे पर अप्रिय स्थिति नही बनी।

 

उधर भोपाल के उपनगर बैरागढ़ में एक सरकारी स्कूल में बच्चों के बीच पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने यह साफ किया कि सूर्यनमस्कार करना सभी बच्चों के लिए अनिवार्य नही हैं। जो बच्चे करना चाहे वे सूर्यनमस्कार करें। जो नही चाहें वे न करें। किसी के लिए कोई बाध्यता नही हैं। मुख्यमंत्री ने यह भी ऐलान किया कि अगले साल से मध्यप्रदेश के स्कूलों में योग शिक्षा को शामिल किया जायेगा।

 



उल्लेखनीय हैं कि मध्यप्रदेश के स्कूलों में हर साल सूर्यनमस्कार का आयोजन किया जाता है। हर साल कुछ मुस्लिम संगठन और नेता इस मुद्दे को उठाते हैं। लेकिन पहली बार ऐसा हुआ है कि एक अनजाने मुस्लिम संगठन ने बकायदा पोस्टर निकालकर इस कार्यक्रम का विरोध किया। इस विरोध पर भी राज्य सरकार ने स्पष्ट किया है कि वह इस कार्यक्रम को हर साल आयोजित करेगी। लेकिन यह कार्यक्रम उन्हीं छात्रों के लिए होगा जो अपनी मर्जी से इसमें शामिल होंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


+ 1 = three

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com