Home » National News » मर्सिडीज ले लो, पर कंपनी मत छोड़ो!

बेहतर प्रतिभा को कंपनी के साथ जोड़े रखने के मकसद से कंपनियां अच्छा काम करने वाले कर्मचारियों को महंगे तोहफों का इनाम दे रही हैं। कर्मचारियों को आईफोन, फ्लैट, कार और जूलरी जैसे कीमती गिफ्ट देना नई बात नहीं। इसकी शुरुआत गुजरात की एक हीरा कंपनी ने कुछ महीने पहले की थी। 



4 लाख का गिफ्ट दिया था       पिछली दिवाली में सूरत की कंपनी हरिकृष्ण एक्सपोर्ट अपने 1,200 कर्मचारियों को 50 करोड़ के उपहार देने की घोषणा करके सुर्खियों में आई थी। कंपनी ने कार, फ्लैट और जूलरी उपहार में देने की घोषणा की थी। वफादारी परीक्षा (लॉयल्टी टेस्ट) पास करने वाले प्रत्येक कर्मचारी को दीवाली के तोहफे के रूप में कम-से-कम 4 लाख रुपये का उपहार दिया गया। उन्हें फिएट कार, 2 बेडरूम के फ्लैट का आंशिक भुगतान या सोने और हीरे का आभूषण लेने का विकल्प दिया गया। इन्फोसिस और एचसीएल टेक जैसी कंपनियां बेहतर काम करने अपने कर्मचारियों को महंगे उपहार दे रही हैं। 



अच्छे वर्कर्स की बल्ले-बल्ले 



एचआर एक्सपर्ट्स की मानें, तो बेहतर प्रतिभा को जोड़े रखने के मामले में कंपनियां अलग हटकर सोच रही हैं। वह टैलंटेड कर्मचारियों को हाई सैलरी पैकेज और बोनस के अलावा आकर्षक उपहार भी दे रही हैं। 



एचसीएल टेक्नॉलजीज ने बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों में से 130 को प्रोत्साहन स्वरूप मर्सिडीज या विदेश में छुट्टी बिताने का पूरा खर्च दिया। वहीं, इन्फोसिस ने अपने 3,000 कर्मचारियों को आईफोन-6एस दिया। ग्लोबल हंट के मैनेजिंग एडिटर सुनील गोयल ने कहा कि बाजार में पर्याप्त मौके हैं और हर कंपनी में नई-नई नियुक्तियां हो रही हैं। ऐसे में कंपनियां अच्छा काम करने वाले कर्मचारियों को उपहार देकर उत्साहित कर रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


two + = 8

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com