Home » National News » कठुआ-सांबा में पाक रेंजरों की फायरिंग, भारत के 4 नागरिक घायल

जम्मू। अरब सागर के रास्ते भारत में 26/11 जैसा हमला दोहराने का मंसूबा नाकाम होने से बौखलाए पाकिस्तान ने अपनी खीज शुक्रवार रात सांबा, रामगढ़ व हीरानगर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर 18 चौकियों को निशाना बनाकर उतारी। पाकिस्तान ने गोलीबारी के साथ मोर्टार के गोले भी दागे।

सीमा सुरक्षा बल ने भी पाकिस्तान को करार जवाब दिया और पांच पाकिस्तानी रेंजर्स को मार गिराया। देर रात तक दोनों ओर से गोलीबारी जारी रही। उधर, कठुआ और सांबा में पाकिस्तान की ओर से हो रही फायरिंग में भारत के चार नागरिक घायल हो गए हैं। एक अन्य घटनाक्रम में पाकिस्तान के नेताओं ने भारत के खिलाफ शुक्रवार को एक प्रस्ताव पारित किया, जिसमें बीएसएफ की गोलीबारी में पाकिस्तानी सैनिकों के मारे जाने की निंदा की गई है।

 

पाकिस्तान की ओर से सीमा से सटे रिहायशी इलाकों को भी निशाना बनाए जाने की आशंका को देखते हुए पूरी अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हाई अलर्ट कर दिया गया है। कठुआ जिले के डीसी शाहीद इकबाल ने सीमा से सटे 54 गांव के लोगों को एहतियात बरतने व रात को घरों से बाहर न निकलने की सलाह दी है। डीसी ने बताया कि प्रशासन ने राहत शिविर भी तैयार कर लिए हैं, यदि पाक गोलीबारी बढ़ती है तो लोगों को सुरक्षित घरों से निकालकर शिविरों तक पहुंचाया जाएगा।

वहीं सीमा पार से गिर रहे गोलों से सीमांत क्षेत्रों में दहशत का माहौल है। पाकिस्तान ने रात करीब साढ़े नौ बजे सांबा व हीरानगर की रेगाल, चचवाल, चलाडिय़ा, मावा, पानसर, मनयारी सहित विभिन्न चौकियों पर अचानक अत्याधुनिक हथियारों से भारी गोलीबारी शुरू की दी। इसके साथ पाक रेंजर्स ने मोर्टार भी दागना शुरू कर दिए। कुछ ही देर बाद रामगढ़ में भी गोलीबारी होने लगी। सीमा पर उपजे ताजा हालात पर उच्चाधिकारी पूरी निगाह बनाए हुए हैं।

पाकिस्तान पिछले दस दिनों में छह बार संघर्ष विराम का उल्लंघन करने के साथ कई बार घुसपैठ के प्रयास भी कर चुका है। 31 दिसंबर को पाक गोलीबारी में सीमा सुरक्षा बल का एक जवान शहीद हो गया था, इसके जवाब में की गई कार्रवाई में सीसुब ने भी चार पाकिस्तानी रेंजरों को मार गिराया था। इसके बाद बृहस्पतिवार रात को पाकिस्तान की ओर से कोई गोलीबारी नहीं की गई, लेकिन सागर के रास्ते गुजरात में घुसपैठ की कोशिश नाकाम होने के बाद पाकिस्तान ने शुक्रवार रात को भारतीय चौकियों को निशाना बनाया।

कब-कब हुई गोलाबारी

24 दिसंबर : पाकिस्तानी रेजरों ने कठुआ जिले के हीरानगर की पानसर अग्रिम चौकी को निशाना बनाया।

25 दिसंबर: पाकिस्तानी रेजरों ने हीरानगर सेक्टर में गोलाबारी की।

30 दिसंबर : अखनूर के प्लांवाला में नियंत्रण रेखा पर घुसपैठ का प्रयास। पाकिस्तानी सेना की गोलीबारी में भारतीय सेना का एक जवान घायल।

31 दिसंबर: सांबा सेक्टर की रगाल पोस्ट पर पाक ने सीमा सुरक्षा बल की पेट्रोलिंग पार्टी को निशाना बनाया, एक जवान शहीद।

1 जनवरी : पाकिस्तानी रेंजर्स ने भारत की 16 चौकियों पर गोलाबारी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


seven × = 7

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com