Home » Dharam » धर्मांतरण के मुद्दे पर राज्यसभा में बवाल जारी

नई दिल्ली। राज्यसभा में भारी हंगामे के बाद आज धर्म परिवर्तन के मुद्दे पर चर्चा शुरू हो गई है। आज पीएम के राज्यसभा पहुंचते ही कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने कहा कि पीएम ने संसदीय दल की बैठक में अपने सांसदों को लक्ष्मण रेखा न लांघने की नसीहत दी थी फिर भी उनके नेता आखिर आए दिन क्यों विवादित बयान दे रहे हैं।

 

वहीं वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आनंद शर्मा को जवाब देते हुए कहा कि पीएम इससे पहले भी एक बयान पर सफाई दे चुके हैं, लेकिन उसके बावजूद विपक्ष का हंगामा नहीं रूका। जेटली ने कहा कि सदन में चर्चा कैसे हो ये विपक्ष तय कर रहा है। जेटली के बयान पर शर्मा ने पीएम पर तंज करते हुए कहा कि पीएम अच्छे वक्ता हैं उन्हें आपके वैशाखियों की जरूरत नहीं है। उन्हें खुद बोलने दिया जाए।

 

वहीं बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा कि धर्म परिवर्तन का मुद्दा काफी बड़ा मुुद्दा है। पीएम को ऐसे लोगों पर कार्रवाई करनी चाहिए तभी ऐसे मामले रुकेंगे। ये काफी महत्वपूर्ण मुद्दा है। देशहित में पीएम को जवाब देना होगा। सीपीआई नेता सीताराम येचुरी ने कहा कि आज पीएम जी राज्यसभा में आए हैं और अगर वो हमें सुन लेगें तो अच्छी बात होगी।

 

इससे पहले आज विपक्ष के भारी हंगामे के बाद पीएम राज्यसभा पहुंचे। आज सत्र शुरू होते ही धर्मांतरण के मुद्दे पर सांसदों का हंगामा शुरू हो गया। राज्यसभा में आज पीएम मोदी के नहीं आने पर विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया था।

 

जेडीयू नेता शरद यादव ने कहा कि आखिर पीएम सदन में आकर धर्मांतरण के मुद्दे पर बयान क्यों नहीं देते आखिर उन्होंने इसे प्रतिष्ठा का प्रश्न क्यों बना लिया है। भारी हंगामे के बाद प्रधानमंत्री राज्यसभा पहुंचे। गौरतलब है कि पिछले कई दिनों से पीएम के जवाब की मांग को लेकर विपक्ष सदन नहीं चलने दे रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


× 5 = thirty five

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com